देस्सी औरत को नंगा किया

देस्सी औरत को नंगा किया

मैं पेशे से घरों का सौदागर हूँ और किसी की प्रोपर्टी डीलिंग का काम करता हूँ | मुझे इसी कारन किसी न किसी के घर पर जाना पड़ता है और इस काम अच्छी खासी कमाई भी हो जताई है | पर दोस्तों मुझे नहीं पता था की मजाक में चूत के दर्शन भी हो जायेंगे और भरी जवान औरत की चूत भी मरने को मिल जायेगी | उस दिन मैं बहुत थका हार था और एक औरत के घर के कुछ दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर के काम से मुझे उसके घर जाना पड़ा और पता चला की वो अकेली ही है | जब वो आई तो मैं उसके गद्रिले मोटे बदन को देखता ही रह गया क्यूंकि यकीन नहीं हो रहा था की इतनी सुन्दर औरत मुझे इतने करीब से भी कभी दर्शन दे सकती है |

जब मैंने उससे काम की बात की तो उसने बोला पहले चाय पी लीजिए काम तो बाद में भी होता रहेगा तभी वो मुझे उप्पर वाले अपने बेड – रूम में ले गयी | मुझे अब उसकी नियत पर भी शक हो रही था और तभी उसने कहा की छोरे तुझे मैं २०००० रुपये दूंगी और अगर तू मेरे बदन को खुश कर सका . .!! मेरे मन तो पहले से ही उसके लिए इतने ख्याल चल रहे और मैं मना कर कैसा कसकता था तभी मैंने उसकी अपनी बाहों में ले लिया और खा, बस देखती जा मेरी जान . .!! हम दोनों बिस्तर पर एक दूसरे थामते हुए सहलाते चूम रहे थे और मेरे चुम्मे उसके होठों पर भी पहुँच गए |

मैं उसके धीरे – धीरे उसे सहलाता हुआ गरम करने लगा और उसके कपडे उतारता हुआ अपने पुरे कपडे खोल डाले | इससे पहले मैं आगे बढ़ता उसने मेरे लंड को दबोचा और अपने मुंह में भरकर चूसने लगा | उसकी चुसम – चुसाई से गरमा थी मुझे और अब मैंने उसकी पैंटी निकालते हुए नंगी कर डाला और उसकी चूत को रगड़ते हुए अपनी जीभ से चाटने लगा जिसपर वो सिसकियाँ लेती हुई खुद ही अपनी चूत में ऊँगली करने लगी | मैं उत्तेजित हो चूका तह और इस बार मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर टिकाते हुए जोर का धक्का मारा जिससे मेरा लंड उसकी चूत में पूरा अंदर चला गया पर उसे दर्द बल्कि वो तो अपना मुंह आह भरके फाड़ती हुई चुदना चाहती थी |

मैं अब उसकी चूत में लंड को ज़ोरदार तरीके से अंदर धेकेलते हुए मज़े ले रहा था | वो रंडी के माफिक अपनी चूत पर उँगलियाँ रगड रही थी | अब मैंने मुद्रा बदलते हुए उसकी दोनों टांगों को पकड़ उठा दिया और उसकी चूत में अपने लंड को धकेलने लगा | उस इस पोसिशन में बहुत मज़ा आ रहा था और भारी भरी सिसकियाँ लेकर मुझे जोश दिला रही थी | मैं बस उसकी चूत में दे दनादान लने को पेलता हुआ २० मिनट में झड गया और वहीँ लेटकर अपनी बची कुची भूक उसकी चूत के रस को चाटते हुए भुजाने लगा | मुझे पहली बार अपने चूत ठुकाई के काम में पैसे कमाने से ज्यादा मज़ा आया |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *